Processor kya hota hai

processor kya hota hai

Introduction 

जभी आप computer लेने या smartphone लेने जाते है तो उस device के specification में processor का नाम तो आता ही है  क्या आपको पता है processor kya hota hai .अगर नहीं पता तो कोई बात नहीं है हम यहाँ Aasantech पैर आज आपको इसकी पूरी जान

processor kya hota hai और कैसे काम करता है? 

processor एक integrated electronic circuit जो वो सरे calculation perform करता है  जिससे एक computer या अन्य device  काम करते है। एक processor arithmetical ,logical ,input /output (I/O) perform करता है और अन्य basic instruction भी perform करता है जो operating system pass करता है उसे। एक device में जो बाकि प्रोसेस होते है वो भी processor के opertation पैर dependent होते है। ऐसे आप DEVICE का BRAIN भी समाझ सकते है।  

ज्यादातर desktop computers के अंदर जो processor होता है वो यतो AMD या INTEL का DEVELOP किया हुआ होता है.यहाँ दोनों कंपनी X86 processor architecture का इस्तमाल करते है. Portable mobile device  जैसे laptop या tablet यह भी AMD या INTEL का use करते है लकिन कभी कभी कुछ SPECIFIC mobile processor use करते है जो companies जैसेकि Qualcomm , MEDIATEK ,ARM और APPLE का DEVELOP किया हुआ होता है। यही COMPANIES SMART PHONE के PROCESSORS भी बनाते है.  

Types of processor 

Modern CPU में अक्सर कई processing cores शामिल होते हैं, जो instruction को process करने के लिए एक साथ काम करते हैं। जबकि ये “core” 1 physical unit में pack होते हैं, वे वास्तव में individual processor हैं। 

यदि आप अपने computer के performance को system monitoring utility जैसे Windows Task Manager (Windows) या Activity Monitor (Mac OS X) के साथ देखते हैं, तो आप प्रत्येक processor के लिए अलग graph देखेंगे। processor जिसमें 2 core शामिल होते हैं उन्हें dual-core processor कहा जाता है, जबकि 4 core वाले लोगों को quad-core processor कहा जाता है। और जिसमे 1 हे core हो उसे  single -core कहते है। कुछ  high-end workstations में कई core के साथ कई CPUs होते हैं, जिससे एक single machine में 8, 12 या इससे अधिक processing core होते सकते  हैं। 

यदि CPU केवल एक बार में instruction के 1 set को process कर सकता है, तो इसे single-core processor माना जाता है। 

कुछ processor multi-threading का उपयोग करते हैं, जो virtualized processor core का उपयोग करता है। virtualized processor core को vCPUs कहा जाता है। ये physical core के रूप में शक्तिशाली नहीं हैं, लेकिन virtual machines (VMs) में performance को बेहतर बनाने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, unnecessory vCPUs को जोड़ने से consolidation ratios को चोट पहुंच सकती है, इसलिए प्रति physical core के में 4-6 vCPU होना चाहिए। 

आज,computer processor के different नाम के अलावा,अलग -अलग  architectures (32-Bitsऔर 64-Bits), speed, और capabilities हैं। नीचे COMPUTER के लिए more common types के CPU की LIST दी गई है। 

NOTE :- इन CPU प्रकारों में से कुछ के लिए multiple versions हैं 

AMD Opteron series, threadripper और Intel Itanium , Xeon serie CPU servers और high-end workstation computers में उपयोग किए जाते हैं। 

कुछ mobile device, जैसे smartphone और tablet, ARM CPUs का उपयोग करते हैं। ये CPU size में छोटे होते हैं, कम electricity की जरूरत होती है, और कम heat होते हैं। 

सब ये बात तो है की device का performance कोनसा processor है इसपर depend करता है। लेकिन जैसे -जैसे आप processor के specification increase करेंगे वैसे -वैसे उसका price भी increase होता है। 

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply